From Nirog: Health Information in Hindi

Infection: Pneumococcal Disease | न्युमोकोकल डिससीज़

संक्षिप्त वर्णन

प्रचलन

यह दुनिया भर में बच्चों और बड़ों में अनेक तरह का बीमारी फैलाता है। अभी तक करीब 90 प्रकार के न्युमोकोकस रोगाणु पहचाने जा चुके हैं, जिनमें करीब 10 तरह के न्युमोकोकस रोगाणु से करीब 60 प्रतिशत न्युमोकोकल डिससीज़ होता है।

नमूना

pneumococcus
Pneumococcus © AJC1

यह इलैक्ट्रॉन सूक्ष्मदर्शी से देखने में गोल आकार के रोगाणु दिखते हैं। यह अधिक समय दो के गुट में पाये जाते हैं, जिसके इनको “डिपलोकोकस न्युमोनियेई” (Diplococcus pneumoniae) भी कहा जाता था।

न्युमोकोकल डिससीज़

न्युमोकोकल डिससीज़ में सभी अंगों में संक्रमित बीमारी हो सकता है। कुछ बीमारी जो इससे हो सकता है, वो हैं –

किसको हो सकता है?

न्युमोकोकल डिससीज़ किसी भी व्यक्ति को सकता है। लेकिन कुछ लोगों को यह बीमारी होने का अधिक संभावना होता है, या फिर उनमें इस बीमारी से कोम्प्लिकेशन होने का अधिक संभावना होता है। वो लोग हैं -

बचाव

न्युमोकोकल डिससीज़ से बचने का सरल उपाय है, इसका विरुद्ध काम करनेवाला “न्युमोकोकल टीका” लें (Pneumococcal vaccine)। यह दो तरह का होता है, बच्चों के लिये और बड़ों के लिये।

इलाज

सभी तरह के न्युमोकोकल डिससीज़ का इलाज है, तुरंत प्रभावशाली एंटीबायोटिक (antibiotic) देना। इन दवाओं का डोज़, दौरान, मरीज के उम्र और बीमारी पर निर्भर करता है। कोट्रिमोक्साज़ोल (cotrimoxazole) और अमोक्सिसिलिन (amoxicillin) नाम के एंटीबायोटिक दिया जा सकता है। दो महीना से छोटे बच्चे को असप्ताल में भर्ती करा के, सुई से दवा देना चाहिये। सही दवा के लिये अपने डाक्टर से जरूर परामर्श लें।
Retrieved from http://nirog.info/index.php?n=Infection.Pneumococcal
Page last modified on January 05, 2010, at 03:41 AM EST