From Nirog: Health Information in Hindi

Medication: Stavudine | स्टावूडीन

HIV Lifecycle
HIV Lifecycle

स्टावूडीन (Zerit) कया है?

स्टावूडीन एक एंटी रिट्रो वाइरल थेरापी (ART) का दवा है। रिवर्स ट्रांसकृपटेज़ (reverse transcriptase enzyme), जो वाइरस के “एक तार जीन” को “दो तार जीन” में बदलता है (क्रम 4), उसे स्टावूडीन रोक देता है। यह वाइरस के जीन को मनुष्य के कोशिकाओं के जीन से मिलने (एकीकरण या integration, क्रम 5) से पहले रोक देता है। यह न्युक्लियोसाईड एनालोग रिवर्स ट्रांसकृपटेज़ इनहिबीटर है।

स्टावूडीन किसे लेना चाहिये?

यह दवा नवजात शिशु से व्यस्कों तक ले सकते हैं। यह तय नहीं है कि आपको कब एंटी रिट्रो वाइरल थेरापी शुरू करना चाहिये। आप और आपके डाक्टर को कुछ बातों को ध्यान में रखना होगा, जैसे कि आपका सी डी 4 सेल काउंट, वाइरल लोड, आपके लक्षण और इन दवाओं के प्रति आपका भाव।
अगर आप स्टावूडीन, अन्य एंटी रिट्रो वाइरल दवाओं के साथ लेते हैं, तो आप वाइरल लोड को बहुत कम कर सकते हैं, और आपका सी डी 4 सेल काउंट बढ जायेगा। इसका मतलब है कि आप अधिक समय तक स्वस्थ्य रह सकते हैं।

गर्भवती महिला को यह दवा नुकसान पहुँचा सकता है, और इसके लिये उन्हें सावधान रहना होगा, खास करके लेकटिक ऎसिडोसिस।

स्टावूडीन कैसे लेना चाहिये?

स्टावूडीन के अनेक प्रकार के केपसूल होते हैं, जैसे कि 15, 20, 30, या 40 मिलीग्राम का। इसका प्रतीदिन खुराक वजन अनुसार होता है

कया स्टावूडीन से कोई नुकसान होता है?

कुछ मामूली दुर्प्रभाव हैं जो समय के साथ कम हो जाते हैं जैसे अच्छा नहीं लगना, सिरदर्द, थकान, मिचली और अन्य तकलीफ।

कुछ असमान्य, गमभीर दुर्प्रभाव हैं, जैसे-

दवाओं के मिश्रण से कोई नुकसान होता है?

स्टावूडीन अन्य दवाओं पर असर करता है, और अन्य दवाऎं, स्टावूडीन पर असर करते हैं। इससे उसका असर भी कम या अधिक हो सकता है, उलटे, इन दवाओं का दुर्प्रभाव बढ जाता है। इन बातों को ध्यान रखके, आप अपने दवाओं, विटामिन और अन्य पदार्थ के बारे में लिख कर रखें, और अपने डाक्टर को अवश्य बतायें कि आप कया-कया ले रहे हैं ? इससे आपको और आपके डाक्टर को आपके दवाओं का असर और नुकसान पर निगरानी रखने में आसानी होगा।
Retrieved from http://nirog.info/index.php?n=Medication.Stavudine
Page last modified on January 09, 2010, at 04:53 AM EST